Dumb-Heart's Voice

kuch Baaten jo Dil me ankahi reh gyi

Archive for the tag “shayari”

Tasveer


Nazaara Aisa ho ki

Tassavur aa jaye

Tasveer aisi ho ki

Shayari ban jaaye

Advertisements

Jiyo Nidar


Hum toh akele andheron me jeete hai
Har par tufaano mein chalte hai

Darte toh wo hai jo,
Bheed me rahte hai
Aur din k ujaale me bhi
Hawa k jhokon se ghabra jaate hai

Koi Aanshu toh Ponchhe..


दिल जब टूटता है तो

दर्द बहुत होता है

दर्द जब होता है तो

दिल किसी हमदर्द को ढूंढ़ ता  है

 

पर जब अपना दर्द हमदर्द का दर्द बन जाए

तो क्या  होता है ?

दिल अपने ज़ख्म भुला कर उसके घाव को भरता है

अपने टुकड़े समेट कर ये

उसके आंसुओं को पूंछता  है

 

दिल ने जीना सिख लिया

टुकड़ों में टांका मार लिया

दुसरो दूसरों की ख़ुशी में

खुद मुस्कुराना सिख लिया

 

पर दिल बेचारा दुखता तो है

उसका गम  उसे कचोटता तो है

आँखें नम होती तो है

तन्हाई में रोती  तो है

अब भी किसी ऐसे हमदर्द को चाहती तो है

जो दर्द पे आंसू न बहाए , बातें न बनाये

पर जो आंसू को पोंछे  और दिल को बहलाए .

Post Navigation

%d bloggers like this: